‘‘सच्चाई-निर्भिकता, प्रेम-विनम्रता, विरोध-दबंगता, खुशी-दिल
से और विचार-स्वतंत्र अभिव्यक्त होने पर ही प्रभावी होते है’’
Powered by Blogger.
 

हिम्मत

0 comments
हिम्मत मुह से कह देने भर में नहीं , उसे कर दिखाने में है !
हिम्मत किसी को राह दिखाने  में नहीं , उसे  मंजिल तक पहुचाने  में है !
हिम्मत कतरा  कतरा रोने में नहीं , उसे  अंजाम तक पहुचाने  में है  !
हिम्मत किसी को देख हंसने में नहीं , उसे बढकर सँभालने में है !
हिम्मत किसी को दर्द देने में नहीं , उसमे मरहम लगाने में है !
हिम्मत खोखली बातो में नहीं , उसे उस  लक्ष्य तक पहुँचाने  में है !
हिम्मत अत्याचार सहने में नहीं , उसके विरुद्ध आवाज उठाने में है !
 हिम्मत देश के मुदों में बहस में नहीं , आगे बढकर बदल डालने में है !
हिम्मत दुसरो की गलती दिखाने  में नहीं , उसमे  सुधार  करने  में है !
हिम्मत मुसीबत से दूर भागने में नहीं , डट कर उसका सामना करने में है !
हिम्मत सिर्फ हिम्मत हिम्मत कहने भर से ही नहीं ,हिम्मत कर दिखाने  में है !
 
Swatantra Vichar © 2013-14 DheTemplate.com & Main Blogger .

स्वतंत्र मीडिया समूह