‘‘सच्चाई-निर्भिकता, प्रेम-विनम्रता, विरोध-दबंगता, खुशी-दिल
से और विचार-स्वतंत्र अभिव्यक्त होने पर ही प्रभावी होते है’’
Powered by Blogger.
 

शुभ नवरात्र (आओ संकल्प ले)

8 comments


8 Responses so far.

  1. या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता।
    नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।
    आपको नवरात्र की ढेर सारी शुभकामनाएं!

  2. या देवी सर्व भूतेशु शक्ति रूपेण संस्थिता
    नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नमहा !
    या देवी सर्व भूतेशु लक्ष्मी रूपेण संस्थिता
    नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नमहा !

 
Swatantra Vichar © 2013-14 DheTemplate.com & Main Blogger .

स्वतंत्र मीडिया समूह