‘‘सच्चाई-निर्भिकता, प्रेम-विनम्रता, विरोध-दबंगता, खुशी-दिल
से और विचार-स्वतंत्र अभिव्यक्त होने पर ही प्रभावी होते है’’
Powered by Blogger.
 

शुभ नवरात्र (आओ संकल्प ले)

13 comments


13 Responses so far.

  1. या देवी सर्वभूतेषु शक्तिरूपेण संस्थिता।
    नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।
    आपको नवरात्र की ढेर सारी शुभकामनाएं!

  2. या देवी सर्व भूतेशु शक्ति रूपेण संस्थिता
    नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नमहा !
    या देवी सर्व भूतेशु लक्ष्मी रूपेण संस्थिता
    नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमस्तस्ये नमो नमहा !

 
Swatantra Vichar © 2013-14 DheTemplate.com & Main Blogger .

स्वतंत्र मीडिया समूह