‘‘सच्चाई-निर्भिकता, प्रेम-विनम्रता, विरोध-दबंगता, खुशी-दिल
से और विचार-स्वतंत्र अभिव्यक्त होने पर ही प्रभावी होते है’’
Powered by Blogger.
 

बधायी हो दलालों बधायी हो

2 comments
एक सूचना है- आतंकवाद और हमारी देश कि मुख्य राजनैतिक पार्टी में जरूर कोइ ना कोई तालमेल है इसका परिणाम देखिये आतंकवादियों ने देशद्रोही अफजल गुरु को जिंदा रखने, अजमल कसाब कि हिफाज़त करने और हिंदुओ को बदनाम करने के बदले शीत विराम कर दिया ...बधायी हो दलालों बधायी हो...

एक और सूचना है- हमारे देश में देश को उल्लू बनाने का बड़ा पुराना चलन है, हमारे देश के स्वघोशित युवराज का परिवार 50 साल से देश को उल्लू बनाकर हराम कि रोटी खा रहा है.. फिर से देश को उल्लू बनाने चले है..

एक और सूचना- अभी-अभी एक नया समाचार उछाला जा रहा है.. स्वामी असिमानंद वाला.. स्वामिजी से देशद्रोही बकवास बयान कैसे दिलाये जा रहे है इसकी पड़ताल करने कि जरूरत है.. या तो स्वामी जी की इन्होंने पूछ दबाकर रखी है.. या फिर स्वामिजी इन्हिके एजेंट है.. या फिर एक और बात हो सकती है ये जो कोर्ट के अन्दर कि ब्रीफिंग ये लोग अपने चम्चे, और कुत्थो के माध्यम से करवा रहे है..

एक और ख़बर सुन ही लो- अपने देश के सम्माननिय दल का कुत्ता जो बीना पट्टे के घूमता रेह्ता है जिसका कम ही है भोंका-भौक्कर माहौल को गर्म रखना. इसलिए वो भौक्ता रेह्ता है वो काफी दिन से चुप चुप है.. पता नही क्यों?
 
Swatantra Vichar © 2013-14 DheTemplate.com & Main Blogger .

स्वतंत्र मीडिया समूह