‘‘सच्चाई-निर्भिकता, प्रेम-विनम्रता, विरोध-दबंगता, खुशी-दिल
से और विचार-स्वतंत्र अभिव्यक्त होने पर ही प्रभावी होते है’’
Powered by Blogger.
 

अंदाज़ अपना - अपना

10 comments

क्यु हरदम टूट जाने की बात करती हो |
नारी हो इसलिए बेचारगी की बात करती हो |
क्या नारी का अपना कोई आस्तिव नहीं ?
एसा कह कर खुद को नीचे गिराने की बात करती हो |
खुद को खुद ही कमजोर बना , ओरों पर क्यु 
इल्ज़ाम  लगाने जैसी बात कहती हो ?
खुद को परखने की हिम्मत तो करो |
कोंन कहता ही की तुम ओरों से कम हो ?
एसे तो खुद ही खुद को कमजोर 
बनाने की बात कहती हो |
नारी की हिम्मत तो कभी कमजोर थी ही नहीं |
ये तो  इतिहास के पन्नों में सीता , अहिल्ल्या 
सती सावित्री  की  जुबानी में  भी  है |
फिर क्यु घबरा कर कदम रोक लेती हो ?
अपनी हिम्मत को ओरों से कम क्यु 
समझती हो |
अपना सम्मान चाहती हो तो पीछे हरगिज़ 
न तू हटना |
पर किसी को दबाकर उपर उठाना एसा भी 
तू हरगिज  न करना |
इस सारी सृष्टि में सबका अपना बराबर 
का हक है |
खुद के हक को पाने के लिए किसी को भी 
तिरस्कृत तू हरगिज़ न करना |
ये नारी तू प्यार की देवी है |
इस नाम को भी कलंकित तू 
कभी न करना |
प्यार से अपने हिस्से की गुहार
तू हर दम करना |
अपने साथ जोड़ना ... किसी को 
तोड़कर आगे कभी मत बढ़ना |
साथ लेकर चलने का नाम ही समर्पण है |
नारी के इसी प्यार पर टिका सृष्टि 
का ये नियम भी है |
इसको बचा कर रखना इसमें तेरा , 
मेरा और सबका  हित भी है |

10 Responses so far.

  1. नारी को अपना अंदाज़ बदलना ही होगा ...अच्छी प्रस्तुति

  2. अच्‍छी रचना।
    महिला दिवस की शुभकामनाएं।
    इसे भी पढें ओर अपने विचारों से अवगत कराएं।
    http://atulshrivastavaa.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

  3. अपने साथ जोड़ना ... किसी को
    तोड़कर आगे कभी मत बढ़ना |
    साथ लेकर चलने का नाम ही समर्पण है |
    नारी के इसी प्यार पर टिका सृष्टि
    का ये नियम भी है |
    इसको बचा कर रखना इसमें तेरा ,
    मेरा और सबका हित भी है |

    नारी मन की गहरी बात, एक सवाल के साथ, उत्तर देती रचना बधाई

  4. नारी के इसी प्यार पर टिका सृष्टि
    का ये नियम भी है |
    इसको बचा कर रखना इसमें तेरा ,
    मेरा और सबका हित भी है |bahu khub line ban padi hai

  5. ZEAL says:

    bahut sundar abhivyakti.

  6. Anonymous says:

    Very informative post. Thanks for taking the time to share your view with us.

  7. Anonymous says:

    place tout pres du malade,

 
Swatantra Vichar © 2013-14 DheTemplate.com & Main Blogger .

स्वतंत्र मीडिया समूह